302 किलोमीटर लंबे लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे | | |

अच्छी खबर»

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे बना रहा है जोड़ियां, किसानों को मिल रही है खुशियां


लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे बना रहा है जोड़ियां, किसानों को मिल रही है खुशियां


लखनऊ के रिवेरी गांव के अवधेश कुमार कुछ वक्त पहले बहुत परेशान थे। खेती करने वाले अवधेश साल में मुश्किल से एक लाख रुपये कमा पाते थे। इतने पैसों में उनके लिए घर चलाना और बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाना मुश्किल होता था। अवधेश की बेचैनी तब और बढ़ गई जब उनकी बेटी की शादी की बात आई। बेटी की शादी का खयाल उन्हें रात में सोने नहीं देता था। बेटी की शादी एक बड़ा काम है, खासतौर से उस इलाके में जहां रिश्ते जोड़ने में 'स्टेटस' बड़ी भूमिका निभाता है।


फिर साल 2013 में मुख्यमंत्री ने 302 किलोमीटर लंबे लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे बनाए जाने का ऐलान किया। पता चला कि एक्सप्रेस-वे रिवेरी के कई खेतों से होकर जाएगा और अवधेश का खेत भी उनमें से एक होगा। अचानक हुए इस फैसले से किसानों को अपनी जमीन के बदले मार्केट प्राइस से 5-10 गुना ज्यादा कीमत मिल गई। अवधेश ने बताया,'रेवेरी जैसे छोटे से गांव में अपनी बेटी की शादी किसी बड़े किसान के घर में करना बड़े सम्मान की बात है। जमीन के बदले मुझे जो मुआवजा मिला उसकी वजह से हमारा स्टेटस दूल्हे के परिवार से मैच हो गया। मैंने अपनी बेटी को गिफ्ट में फोर-वीलर दी जो इस गांव में किसी शादी में दिया जाने वाला अब तक का सबसे मंहगा गिफ्ट है।'

loading...