व्यवसाय समाचार»

नोटबंदी से वाहन उद्योग सहमा ,  दिसंबर 2016 में वाहनों की बिक्री में पिछले 16 साल की सबसे बड़ी गिरावट

नोटबंदी से वाहन उद्योग सहमा , दिसंबर 2016 में वाहनों की बिक्री में पिछले 16 साल की सबसे बड़ी गिरावट


नोटबंदी कार मार्केट के लिए बुरा स्वप्न साबित हो रही है क्योंकि 8 नवंबर 2016 को लागू किए गए नोटबंदी के कारण पिछले साल दिसंबर में वाहनों की बिक्री 18.66 प्रतिशत घट गयी। यह गिरावट पिछले 16 साल में वाहनों की बिक्री में यह सबसे बड़ी मासिक गिरावट है।

ऑटोमोबाइल कंपनियों के संगठन 'सियाम' के ताजा आंकड़ों के अनुसार, स्कूटर, मोटरसाइकिल और कारों सहित ज्यादातर वाहनों की श्रेणी में दिसंबर में भारी गिरावट दर्ज की गई। नोटबंदी के तहत 1000 और 500 रुपये के पुराने नोटों को चलन से बाहर करने की सरकार की घोषणा के बाद जनता के पास नकदी की तंगी से वाहन बिक्री पर इसका असर हुआ है।

 सियाम के आंकड़ों के मुताबिक, दिसंबर 2016 में विभिन्‍न श्रेणियों के वाहनों की बिक्री 18.66 प्रतिशत घटकर 12,21,929 रही। वहीं एक साल पहले दिसंबर में यह कुल मिलाकर 15,02,314 थी।

इस मंदी के कारण वाहन उधोग पर बहुत बुरा असर पड़ने का डर है , इस मंदी से नयी नौकरियाँ दूर हुई है और कर्मचारियों पर  छटनी का खतरा भी मँडराने लगा है  

loading...