मनोरंजन समाचार»

अपनी मौत से एक दिन पहले स्वर्गीय ओम पुरी बहुत तनाव में थे :- निर्माता ख़ालिद किदवई ख़ालिद


अपनी मौत से एक दिन पहले स्वर्गीय ओम पुरी बहुत तनाव में थे :- निर्माता ख़ालिद किदवई ख़ालिद


मुंबई। अपनी मौत से एक दिन पहले स्वर्गीय ओम पुरी बहुत तनाव में थे । ओम पुरी फ़िल्म 'राम भजन ज़िंदाबाद' में काम कर रहे थे, जिसके निर्माता ख़ालिद किदवई ख़ालिद गुरुवार को उनके साथ थे। ख़ालिद ने ओम पुरी के साथ बिताई आख़िरी शाम के बारे में बताया।

ख़ालिद के अनुसार  कल (गुरुवार) को ओम पूरी जी का इंटरव्यू था, लेकिन बीच में ही उन्होंने मना कर दिया, शाम को फ़ोन कर उन्हें घर बुलाया था। ख़ालिद ने कहा- "मैं कल शाम को साढ़े 5 बजे ओम पुरी के घर गया था। वहां उनका एक इंटरव्यू चल रहा था। इंटरव्यू ख़त्म होने के बाद उन्होंने मुझसे कहा कि एक उन्हें समारोह में जाना है और तुम मेरे साथ चलो । जब मैंने असमर्थता जताई तो गाड़ी से उन्हें छोड़ने को कहा। वहां पहले वो 'त्रिशूल' बिल्डिंग  अपने घर गए, जहां उनकी पूर्व पत्नी नंदिता रहती हैं।

ख़ालिद कहते हैं कि वहां ओम जी की नंदिता से काफी बहस हुई। वो त्रिशूल बिल्डिंग में अपने बेटे ईशांत से मिलने गए थे। नीचे आकर उन्होंने ईशांत को फोन किया, लेकिन वो किसी पार्टी में था। फिर वो गाडी में ही उसका इंतज़ार करने लगे। इस बीच उन्होंने ड्रिंक भी लिया वो मुझे लेकर मनोज पाहवा के घर भी गए थे। वहां भी उनकी किसी से पैसों को लेकर बहस हो रही थी।

ख़ालिद कहते हैं- ''मैं बाहर था। मुझे नहीं पता बहस किससे हो रही थी । वो बाहर आये तो बहुत भावुक थे। फिर मैंने उन्हें घर छोड़ा , उनको छोड़ने के बाद रास्ते में ही मैंने देखा तो उनका पर्स मेरी कार में गिर गया था। देर रात होने वजह से मैंने पर्स के लिए सुबह उनके ड्राइवर मिश्रा को फोन किया तो उसने बताया कि ओम जी दरवाज़ा नहीं खोल रहे हैं।'' 


loading...