कांशीराम कॉलोनी | नवजात बच्चे | बच्चे को बेचने की साजिश |

शर्म नाक समाचार»

नवजात बच्चे को बेचने के लिए महिला ने रची थी साजिश


नवजात बच्चे को बेचने के लिए महिला ने रची थी साजिश


चिनहट की कांशीराम कॉलोनी में एक मानसिक मंदित महिला के नवजात बच्चे को बेचने की साजिश रचने का मामला रविवार को सामने आया। सूचना पाकर बच्चे को लेने पहुंची चाइल्ड लाइन को भी महिला ने बच्चा देने से इंकार कर दिया। टीम ने इसकी शिकायत चिनहट कोतवाली में करने के साथ ही गांव के प्रधान को स्थिति से अवगत कराया।

कांशीराम कॉलोनी की सड़कों पर पिछले एक साल से 35 वर्षीय मानसिक मंदित महिला घूम रही थी। इसी दौरान कॉलोनी के ही कुछ लोगों ने उसे घर में रखने के बहाने बुलाकर दुराचार किया और फिर बेसहारा छोड़ दिया। इस मामले की किसी को भनक तक नहीं लग सकी। लिहाजा महिला के गर्भवती होने के बाद से ही कॉलोनी की दो महिलाओं ने उस पर नजर रखना शुरू कर दिया।

आरोप है कि एक महिला बच्चे को अपनी देवरानी को बेचना चाहती थी। जबकि दूसरी उसे अपने एक खास रिश्तेदार को देने की साजिश रच चुकी थी। इनमें से एक महिला ने गर्भवती को अपने घर में रखकर प्रसव तक करा डाला था।

मनोज, चाइल्ड लाइन के सदस्य बताते हैं कि हमें बच्चे को बेचने की सूचना मिला थी। महिला को बच्चे के साथ महिला शरणालय में रखने का फैसला लिया जाएगा। इस मामले में दोनों ही आरोपी महिलाओं की भूमिका संदिग्ध लग रही है। मामले की जांच होगी।

loading...