यूनियन क्रिकेट एकेडमी ग्राउंड | प्रणव धनावड़े | सचिन तेंदुलकर | एचटी भंडारी क्रिकेट कप

शर्म नाक समाचार»

सचिन का रिकार्ड तोड़ने वाले क्रिकेटर प्रणव से पुलिस ने की बदसलूकी।


सचिन का रिकार्ड तोड़ने वाले क्रिकेटर प्रणव से पुलिस ने की बदसलूकी।


क्रिकेट की किताब में 329 गेंदों में नाबाद 1009 रन बनाने का रिकॉर्ड प्रणव धनावड़े के नाम पर है। यूनियन क्रिकेट एकेडमी ग्राउंड में मुंबई क्रिकेट असोसिएशन के एचटी भंडारी क्रिकेट कप में प्रणव ने ये कीर्तिमान बनाया था।

स्कूल क्रिकेट में विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले खिलाड़ी प्रणव धनावड़े के साथ मुंबई पुलिस ने बदसलूकी की है। प्रणब धनावड़े ने मुंबई पुलिस पर आरोप लगाया है कि उसने उनके साथ धक्कामुक्की की और हिरासत में रखकर गाली गलौच भी की गई। खबरों की माने तो इन सबके पीछे केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का हेलिकॉप्टर उतारने के लिए बनाया जा रहा हेलीपैड असल वजह रहा। किसी भी स्तर पर क्रिकेट में हजार रन की पारी खेलने वाले पहले क्रिकेटर प्रणव के परिजनों का कहना है कि यह घटना शहर के सुभाष मैदान में प्रैक्टिस के दौरान हुई।

दरअसल, कल्याण भिवंडी दौरे पर बीजेपी नेता और केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के लिए सुभाष मैदान में हेलीपैड बनाया गया था। इसी मैदान में प्रणव अपनी साथियों के साथ क्रिकेट का अभ्यास कर रहा थे, वहां तैनात एक पुलिसकर्मी ने खिलाड़ियों को वहां से जाने को कहा। सभी खिलाड़ी उक्त स्थान से हटकर थोड़ी दूर जाकर स्ट्रेचिंग करने लगे। इतनी देर में कुछ वरिष्ठ अधिकारी भी आ गए और उन्होंने भी खिलाड़ियों से मैदान छोड़कर जाने को कहा, जिसके बाद प्रणव और पुलिस के बीच बहस हुई। पुलिस वालों के इस व्यवहार पर प्रणव ने उनसे हैलीपेड की अनुमति के बारे में पूछा, जिसके बाद पुलिस पर आरोप है कि वे प्रणव को धक्का देते हुए अपनी जीप में बैठाकर बाज़ार पेठ पुलिस स्टेशन ले गए।

प्रणव का आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने उनके साथ पुलिस स्टेशन में मारपीट की और उनके पिता के साथ बदतमीजी की गई। प्रणव ने पुलिस पर थप्पड़ मारने का भी आरोप लगाया है। बता दें कि क्रिकेट की किताब में 329 गेंदों में नाबाद 1009 रन बनाने का रिकॉर्ड प्रणव धनावड़े के नाम पर है। मुंबई से सटे कल्याण के यूनियन क्रिकेट एकेडमी ग्राउंड में मुंबई क्रिकेट असोसिएशन के एचटी भंडारी क्रिकेट कप में केसी गांधी स्कूल के लिए प्रणव ने ये कीर्तिमान बनाया था। ख़बर फैलने पर कई शिवसैनिक पुलिस स्टेशन पहुंच गएं पुलिसवालों की उनके साथ बहस हो गई। हंगामा बढ़ता देख चेतावनी देने के बाद पुलिस ने प्रणव को छोड़ दिया।

जब खेलने वाली पिच के पास हेलीपैड बनाने को लेकर प्रणव ने विरोध किया और पुलिस से पूछा कि उन्हें खेलने क्यों नहीं दिया जा रहा तो पुलिस ने उनसे बदतमीजी की। इसके बाद प्रणव ने पुलिस से लिखित में वो दस्तावेज दिखाने को कहा, जिसके आधार पर यहां खेल को रोककर हैलीपेड बना दिया गया। खबर मिलने के बाद केंद्रीय मानव संसाधान विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने भी बयान जारी कर कहा, ‘मैं कल्याण में कार्यक्रम के लिए हेलिकॉप्टर से नहीं बल्कि कार से जाऊंगा। प्रणव धनावड़े का कहना सही है कि खेल के मैदान में हेलिकॉप्टर लाना ठीक नहीं है।

loading...